Home / नगरे / अवध / यूपीकोका विधेयक हुआ पारित…विधेयक गरीबों, पिछड़ो, दलितों, अल्पसंख्यकों व पत्रकारों का उत्पीड़न करने वाला -नेता प्रतिपक्ष

यूपीकोका विधेयक हुआ पारित…विधेयक गरीबों, पिछड़ो, दलितों, अल्पसंख्यकों व पत्रकारों का उत्पीड़न करने वाला -नेता प्रतिपक्ष

श्रीन्यूज़।लखनऊ।आज़ विधान सभा मे विपक्ष की आपत्तियों को खारिज करते हुए गुरुवार को यूपीकोका विधेयक पास हो गया।विधेयक को गरीबों, पिछड़ो, दलितों, अल्पसंख्यकों व पत्रकारों का उत्पीड़न करने वाला बताते हुए नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने अपने दल के साथ सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया।सपा के बाद कांग्रेस व बसपा ने भी विधेयक को जनविरोधी करार देते हुए सदन से बहिर्गमन किया। संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि विपक्ष विधेयक के प्रावधानों की गलत व्याख्या करके परिभाषित कर रहा है। संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने विधेयक पर विपक्ष की आपत्तियों को खारिज करते हुए सदन में विधेयक पारित करने का प्रस्ताव रखा जिसे ध्वनिमत से पारित कर दिया।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा कहा कि प्रदेश में राजनीतिक लोगों पर दर्ज 20 हजार से अधिक मुकदमे वापस होंगे। उत्तर प्रदेश सरकार के यूपीकोका पर शुरू हुए घमासान पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने साफ किया कि यूपीकोका का इस्तेमाल राजनीतिक द्वेष भावना के लिए प्रयोग नहीं किया जाएगा। उत्तर प्रदेश विधानसभा में यूपीकोका विधेयक पारित हुआ। इससे पहले इस बिल पर सदन में चर्चा हुई जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बिल को उत्तर प्रदेश में निवेश बढ़ाने और कानून व्यवस्था का माहौल दुरुस्त करने में अहम योगदान देने वाला बताया।यूपी सरकार के मंत्री और प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा कि यूपीकोका का विपक्ष ने साम्प्रदायिकरण किया अपराधियों की कोई जाति या धर्म नहीं होता ।प्रदेश में सभी पर्व त्योहार शांतिपूर्ण सम्पन्न करने के लिए कानून के दायरे में छूट के लिए सरकार ने व्यवस्था की। धार्मिक कार्यक्रमों दीवाली, जन्मास्टमी, ईद का त्योहार शांति से मनाने का प्रयास हुआ। नगर निकाय के चुनाव को शांति पूर्वक सम्पन्न हुआ। उन्होंने कहा कि आम जन सुरक्षा की गारंटी चाहता है। आम आदमी शांति और विकास चाहता है। सरकार ने इस मोर्चे पर खामियों को दूर करने का प्रयास किया। पुलिस अफसरों को फुट पेट्रोलिंग के लिए कहा गया। आठ लाख जगह पर फुट पेट्रोलिंग का काम किया गया। इसके बाद करीब एक लाख 26 हजार मामलों में कार्यवाही की गई ।

About desh deepak"rahul"

Check Also

विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ा प्रश्नकाल ।

श्रीन्यूज़।लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र में प्रश्नकाल लगातार दूसरे दिन विपक्ष के हंगामे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: