Breaking News
Home / नगरे / अवध / रेलवे ट्रैक पर चार-चार घटनाओं को लेकर रेल अधिकारी सोमवार को हुए परेशान ।

रेलवे ट्रैक पर चार-चार घटनाओं को लेकर रेल अधिकारी सोमवार को हुए परेशान ।

श्रीन्यूज़।लखनऊ।आपको बता दे की चटकी पटरी से डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस गुजरने से अधिकारियों ने ओएचई कटवा कर ट्रेन रोककर हादसे को बचाया। तो वहीं शताब्दी एक्सप्रेस के इंजन से पत्थर टकराए जाने के कारण ट्रेन करीब दस मिनट खड़ी रही। वहीं सियालदाह एक्सप्रेस के इंजन का पेंटो ओएचई तार पर लटकी थैली से टूटते हुए बचा। पहली घटना राजधानी एक्सप्रेस सोमवार सुबह दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई। गेटमैन की सूचना पर ओएचई काटकर ट्रेन को पटरी टूटी होने की सूचना पर रोका गया। ट्रैक की अस्थाई मरम्मत करने के बाद ही ट्रेन को आगे की ओर रवाना किया गया। इस दौरान रेल प्रशासन में हड़कंप मचा रहा। सोमवार सुबह करीब नौ बजे सोमना स्टेशन के पास अप लाइन की पटरी चटक गई थी।इस दौरान 12423 डिब्यूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस को अप लाइन से गुजरना था। जानकारी होने पर गेट मैन ने तत्काल पटरी टूटी होने की जानकारी रेल अधिकारियों को दी । सूचना मिलते ही रेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में खतरे को भांप रेल अधिकारियों के निर्देश पर ओएचई लाइन काटकर राजधानी एक्सप्रेस को रोका गया। ट्रेन को समय रहते रोक लिया गया वरन बड़ा हादसा घट जाता । अधिकारियों के निर्देश पर रेलवे की टीम मौके पर पहुंच गई। टीम ने करीब पन्द्रह मिनट के बाद ट्रैक की अस्थाई मरम्मत कर उसे दुरुस्त कर दिया गया। जिसके बाद सुरक्षा के मद्देनजर ट्रेनों को गुजारा गया।दूसरी घटना नई दिल्ली से लखनऊ जा रही शताब्दी एक्सप्रेस से सोमवार सुबह एक पत्थर टकरा जाने के कारण ट्रेन करीब दस मिनट खड़ी रही। घटना सुबह करीब साढ़े नौ बजे की है। जब 12004 शताब्दी एक्सप्रेस जैसे ही भदान रेलवे स्टेशन के समीप पहुंची तभी ट्रेन के इंजन से एक भारी पत्थर टकरा गया। चालक ने अनहोनी की आशंका के चलते ट्रेन को जहां की तहां रोक दिया। इंजन को चेक करने के बाद ही ट्रेन को आगे की ओर रवाना किया गया। इस घटना के चलते ट्रेन करीब दस मिनट तक मेन लाइन पर खड़ी रही।तीसरी घटना कालका मेल से खुर्जा रेलवे स्टेशन के समीप सुबह करीब नौ बजे की है। जब एक युवक ट्रेन से टकरा गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। चौथी घटना मक्खनपुर-शिकोहाबाद रेलवे स्टेशनों के बीच की है। सियालदाह एक्सप्रेस के चालक ने ओएचई तारों पर थैली लटकी होने की जानकारी दी थी। गनीमत रही कि थैली में फंसकर ट्रेन का पेंटो नहीं टूटा। बाद में रेल कर्मचारियों ने थैली को ओएचई तारों से हटा दिया गया।

About desh deepak"rahul"

Check Also

नए विद्यार्थियों से नही लिया जाएगा अनाप सनाप शुल्क -उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा

श्रीन्यूज।लखनऊ।उत्तर प्रदेश सरकार के उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा जी ने पत्रकारों को संबोधित करते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: