Breaking News
Home / नगरे / अवध / आजम खान ने कहा- योगी जी ताजमहल गिराने चलेंगे तो मैं साथ चलूंगा।

आजम खान ने कहा- योगी जी ताजमहल गिराने चलेंगे तो मैं साथ चलूंगा।

 

 

 

श्री न्यूज़।लखनऊ।उत्तर प्रदेश सरकार के पर्यटन विभाग की पुस्तिका से ताजमहल को हटाए जाने पर सियासत तेज हो गई है।  सपा के बड़े नेता आजम खान ने कहा- योगी जी ताजमहल गिराने चलेंगे तो मैं साथ चलूंगा। ताजमहल गुलामी की निशानी है।और यह भी कहा की राष्ट्रपति भवन गुलामी की निशानी मैं इस फैसले का स्वागत करता हूं और यह भी कहना चाहूंगा कि ये फैसला बहुत देर से हुआ और अधूरा निर्णय हुआ।ताज महल गुलामी की निशानी है। क़ुतुब मीनार गुलामी की निशानी है। दिल्ली का लाल किला, आगरा का किला गुलामी की निशानी है। दिल्ली की पार्लियामेंट गुलामी की निशानी है। राष्ट्रपति भवन गुलामी की निशानी है।यह अच्छी पहल है और मेरे ख्याल से तो एक ज़माने में बात चली थी की ताज महल को गिराना चाहिए। अगर ऐसा होगा और योगी जी इस तरह का निर्णय लेंगे तो हमारा सहयोग है।आजम ने कहा की अपमान की निशानी को ध्वस्त कर देना चाहिए।आजम ने कहा ”बाबरी मस्जिद में तो नहीं दे सकते थे, क्योंकि वो अल्लाह का घर था। लेकिन ताजमहल मकबरा है और गुलामी की निशानी है। योगी जी ने कहा भी है कि मुग़ल हमारे पूर्वज नहीं हैं।यह चीजें रहनी ही नहीं चाहिए। पर्यटन से हटाने की क्या ज़रुरत है। अपमान की निशानी को, गुलामी की निशानी को, इन सबको ध्वस्त कर देना चाहिए। जिस टाइम योगी जी ताजमहल गिराने चलेंगे, मैं साथ चलूंगा।

आपको बताते चले की योगी सरकार की बुकलेट पर विवाद क्यों?

दरअसल, वर्ल्ड टूरिज्म डे के मौके पर यूपी टूरिज्म डि‍पार्टमेंट ने बुकलेट ‘उत्तर प्रदेश पर्यटन-अपार संभावनाएं’ जारी की थी, जिसमे आगरा में बने ऐतिहासिक इमारत ‘ताजमहल’ को जगह नहीं दी गई। बुकलेट में सीएम योगी आदित्यनाथ के इलाके में स्थित गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर को दूसरे पेज पर जगह दी गई। इसमें मंदिर का फोटो, इतिहास और महत्व छापा गया था। इसके अलावा बलरामपुर के देवी पाटन शक्ति पीठ भी बुकलेट में शामिल की गई।बुकलेट का पहला, छठा और सातवें पेज पर काशी की गंगा आरती छपी है। दूसरे पेज पर गंगा आरती के साथ सीएम योगी और टूरिज्म मि‍नि‍स्टर की फोटो छपी गई।इसके अलावा बुकलेट में अयोध्या भी शामिल है। 12वें और 13वें पेज पर अयोध्या की डिटेल जानकारी दी गई है। रामलीला के कुछ फोटो भी बुकलेट में शामिल किए गए हैं।

विवाद पर क्या बोलीं टूरिज्म मिनिस्टर?

ताजमहल पर विवाद बढ़ने पर यूपी की टूरिज्म मि‍नि‍स्टर रीता बहुगुणा जोशी ने मंगलवार को सफाई दी। उन्होंने कहा, सरकार आगरा में ताजमहल और उससे जुड़े आसपास के टूरिस्ट प्लेसों का विकास करेगी। इसके लिए 156 करोड़ रुपए की योजनाएं अलॉट की गई हैं। अगले 3 महीने में इन पर काम शुरू हो जाएगा। आगरा को स्मार्ट सिटी के तहत डेवलप कराया जा रहा है।ताजमहल और आगरा का विकास केंद्र और यूपी सरकार की प्राथमिकता है। वर्ल्ड बैंक की मदद से चलाई जा रही टुरिज्म स्कीम के तहत ताजमहल का विकास होगा।

About desh deepak"rahul"

Check Also

नए विद्यार्थियों से नही लिया जाएगा अनाप सनाप शुल्क -उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा

श्रीन्यूज।लखनऊ।उत्तर प्रदेश सरकार के उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा जी ने पत्रकारों को संबोधित करते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: